image source: pixabay.com  image by: Shafin

कोरोना वायरस जैसे संक्रामक रोगों के नियंत्रण में वैक्सीन तब और जरूरी हो जाता है जब इसका प्रकोप पूरे विश्व पर हो। दुनियाभर के वैज्ञानिक इस संक्रमण को रोकने के लिए वैक्सीन बनाने में जी जान से लगे हुए हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि जिस तेज़ी से वैज्ञानिक कोरोना वायरस के वैक्सीन पर शोध कर रहे हैं,वो अद्भुत है। पिछले दो दशकों में नई संक्रामक बीमारियों के उभरने के साथ,विशेष रूप से H1N1 इन्फ्लूएंजा के बाद,वैश्विक टीका विकास गतिविधि कुछ ज्यादा गंभीर है। पूरी दुनिया इस वक्त एक सफल वैक्सीन बनाने के रेस में लगी हुई है। लेकिन हमें ये भी नहीं भूलना चाहिए कि आमतौर पर एक सुरक्षित और प्रभावी वैक्सीन को बनाने में सालों से लेकर दशकों लग जाते है। हाल ही में Ebola वायरस के जिस वैक्सीन को मंजूरी मिली थी उसे बनाने में 15 वर्ष से भी अधिक का समय लग गया था।

वैक्सीन बनाने की प्रक्रिया कई स्टेज्स से हो कर गुजरती है।हर स्टेज में वैक्सीन के सुरक्षा और प्रभाव के साथ साथ होने वाले साइड इफेक्ट्स पर भी गहन शोध किया जाता है। वैक्सीन के Development cycle, शोध के बाद प्री क्लिनिकल और क्लिनिकल ट्रायल से होकर गुजरती है और फिर समीक्षा और मंजूरी के लिए भेजी जाती है।आमतौर पर कई वैक्सीन प्री क्लिनिकल ट्रायल आसानी से पा कर लेती है लेकिन क्लिनिकल ट्रायल और मानव परीक्षण के दौरान 70 से 80 प्रतिशत वैक्सीन फेल हो जाती है। अभी पूरे विश्व में कोरोना वायरस के 145 से भी ज़्यादा वैक्सीन के विकास का काम चल रहा है जिनमे से 21 वैक्सीन क्लिनिकल ट्रायल के विभिन्न स्टेज में है।इनमें से सबसे आगे ब्रिटेन के Oxford University और AstraZeneca के ChAdOx1 वैक्सीन और अमेरिकी फार्मा कंपनी Moderna Therapeutics के mRNA-1273 वैक्सीन है जो क्लिनिकल ट्रायल के अंतिम स्टेज में है।

आईये देखते है दुनियाभर के 5 ऐसे Potential वैक्सीन Candidate जो क्लिनिकल ट्रायल के अलग अलग स्टेज में है। वैक्सीन बनाने की रेस में ये पांच वैक्सीन इस समय पूरी दुनिया में सबसे आगे है और पूरी दुनिया इस समय इन वैक्सीनस के ऊपर नजर टिकाए बैठी है।

Candidate : AZD-1222
प्रायोजक : Oxford University/AstraZeneca 
क्लिनिकल ट्रायल : Phase-3
संस्थान : Oxford University,The Jenner Institute 

•Candidate : mRNA-1273  
प्रायोजक : Moderna Therapeutics   
क्लिनिकल ट्रायल : Phase-2/3
संस्थान : Kaiser Permanente Washington Health Research Institute  
  
•Candidate : INO-4800 
प्रायोजक : Inovio Pharmaceuticals
क्लिनिकल ट्रायल : Phase-2
संस्थान : Centre for Pharmaceutical Research,University of Pennsylvania

•Candidate : AD-5NCOV
प्रायोजक : Cansino Biologics
क्लिनिकल ट्रायल : Phase-2
संस्थान : Tongji Hospital,Wuhan,China   

•Candidate : COVAXIN
प्रायोजक : Bharat Biotech
क्लिनिकल ट्रायल : Phase-1/2
संस्थान : Bharat Biotech and Indian Council of Medical Research